Baikunth Chaturdashi 2020: कब है Vaikunth Chaturdashi? जानें महत्व और शुभ मुहूर्त

Baikunth Chaturdashi 2020: कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि को बैकुंठ चतुर्दशी मनाई जाती है। आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि ऐसी मान्‍यता है जो भी व्यक्ति Baikunth Chaturdashi वाले दिन भगवान विष्णु (Lord Vishnu) की पूजा या फिर व्रत करते हैं उन्‍हें बैकुंठ धाम की प्राप्ति होती है। आइए आपको अब इस विषय में जानकारी देते हैं कि बैकुंठ चतुर्दशी कब है (Baikunth Chaturdashi Date) और क्या है व्रत का महत्‍व?

Vaikunth Chaturdashi 2020: जानें तिथि और समय

बता दें कि बैकुंठ चतुर्दशी 28 नवंबर को है। बैकुंठ चतुर्दशी आरंभ का समय 28 नवंबर रात्रि 10 बजकर 22 मिनट से 29 नवंबर 2020 को 12 बजकर 48 मिनट तक है।

Baikunth Chaturdashi Importance: जानें महत्व

शास्‍त्रों में बैकुंठ चतुर्दशी का एक खास महत्व बताया गया है। ऐसा कहा जाता है कि जिस व्यक्ति की इस दिन मृत्यु होती है उसे सीधे स्वर्गलोक में स्थान की प्राप्ति होती है। केवल भगवान विष्णु की ही नहीं इस दिन भगवान शिव (Shiv Ji) की भी पूजा होती है। ऐसा कहा जाता है कि इस दिन विष्णु जी और भगवान शिव की आराधना यानी पूजा करने से पाप नष्ट हो जाते हैं।

पुराणों के मुताबिक, भगवान शिव ने इसी दिन भगवान विष्णु को सुदर्शन चक्र भी दिया था। ध्यान देने वाली बात यह है कि बैकुंठ धाम की प्राप्ति सद्गुणी, दिव्य पुरुष या सतकर्म करने वाले व्यक्ति को होता है। यदि श्रद्धापूर्वक बैकुंठ चतुर्दशी का व्रत किया जाए तो बैकुंठ धाम में स्‍थान की प्राप्ति होती है।

Also Read: Early Marriage Tips: शादी में बार-बार आ रही है अड़चन, इन सरल उपायों से होगा फटाफट विवाह

Also Read: Vastu Tips for Money: घर में लानी है बरकत तो इन 5 टिप्स को माना गया है कारगर, जानिए क्या कहता है Vastu Shastra

Share this!!

Rahul Sharma

News Updates is a platform where you find stuff related to Politics, Bollywood, Religion, Tech & Gadgets, Lifestyle, Education, Gallery & more... so stay updated with latest news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *