Sadak 2 Movie Review: अपनी राह से भटकती आलिया आदित्य की सड़क 2, पढ़ें रिव्यू

Sadak 2 Movie Review: महेश भट्ट निर्देशित सड़क 2 (Sadak2) ओ टी टी प्लेटफार्म पर २8 अगस्त को रिलीज़ कर दी गई है। महेश भट्ट ने 1999 के बाद सड़क 2 से फिर से निर्देशन की कमान अपने हाथ में ली है। फिल्म को हॉटस्टार पर रिलीज़ किया गया है फिल्म के मुख्य किरदार संजय दत्त आलिया भट्ट और आदित्य रॉय कपूर हैं । संजय दत्त (Sanjay dutt) की सड़क फिल्म दर्शकों के द्वारा काफी पसंद की गई थी। सड़क 2 उसी का sequal है सड़क २ में भी संजय दत्त फिर से मुख्य भूमिका में नजर आएंगे आलिया भट्ट (Alia bhatt) संजय दत्त और आदित्य रॉय कपूर को पसंद करने वाले लोगों के लिए फिल्म देखने से पहले ये जानना जरूरी है कि आखिर फिल्म है कैसी –

story of film

सड़क 2 की शुरुआत होती है आर्या (आलिया भट्ट) की कहानी से – आर्या के पिता जिशू सेनगुप्ता और मौसी प्रियंका बोस एक बाबा के भक्त हैं जो एक ढोंगी बाबा दिखाया गया है बाबा की भूमिका जाने माने कलाकार मरकरन्द देशपांडे निभाते नजर आएंगे । आर्या की माँ की मौत हो चुकी है और वो अपनी माँ की मौत के लिए बाबा को ही जिम्मेदार समझती है और उसकी सच्चाई सबके सामने लाने के लिए लड़ाई लड़ती दिखाई देती है ।

इस बीच आर्या को एक विशाल आदित्य रॉय कपूर (Aditya roy kapoor) नाम के लड़के से प्यार हो जाता है ।आर्या की माँ की इच्छा थी की वो 21 वें साल से पहले कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर जाये और अपनी माँ की इच्छा पूरी करने के लिए आर्या रवि संजय दत्त से टैक्सी लेने जाती है। टैक्सी पूजा ट्रैवेल्स एंड टूर्स सर्विसेस के यहाँ बुक होती है। रवि संजय दत्त टैक्सी ले जाने के लिए मना कर देता है क्योकि रवि अपनी पत्नी के तीन महीने पहले मर जाने से गहरे दुःख में हैं और वो टैक्सी ले जाने को मना कर देता है । आर्या के काफी मनाने के बाद रवि टैक्सी ले जाने को तैयार हो जाता है कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर आर्या के साथ विशाल भी जाता और कैलाश मानसरोवर जाने के दौरान आर्या साथ कुछ ऐसी घटनाएं होती है जिनके बाद रवि आर्या की मदद करता है।

फिल्म का Screen play

फिल्म की कहानी में कोई आकर्षण नहीं दिखाई देता और अगर हम स्क्रीनप्ले की बात करें तो काफी उलझा हुआ है कई बार हम समझ ही नहीं पाते कि फिल्म में चल क्या रहा है। कुछ दृश्य आपको उलझन में डाल देंगे कई जगह फिल्म अपनी राह से भटकती हुई दिखती है ।

मूवी के Characters

अब हम मुख्य किरदारों पर बात करते हैं संजय दत्त का रोल ही आपको अपनी तरफ थोड़ा बहुत आकर्षित करेगा। पूजा भट्ट फिल्म में बस तस्वीर में नजर आएंगी। इसके अलावा मकरंद देशपांडे जो बाबा के अवतार में आपको सड़क के सदाशिव अमरापुरकर की आपको याद दिलाएंगे, लेकिन कुछ दृश्य आपको हास्यास्पद लगेंगे जीशु सेनगुप्ता जो आलिया के पिता का किरदार निभाते दिखेंगे। उनका किरदार ही सडक 2 में एक ट्विस्ट लेकर आता है । फिल्म की कहानी बहुत कमजोर है और दर्शकों को बाँध के नहीं रखती कई जगह आपको लगेगा फिल्म अपनी राह से भटक गई है।

फिल्म का Music

अगर फिल्म के म्यूजिक की बात करें तो एक म्यूजिक ही थोड़ा बहुत फिल्म को बेहतर बनाती हुई दिखी फिल्म का म्यूजिक अंकित तिवारी ,जीत गांगुली और समिध मुखर्जी द्वारा दी गयी है। महेश भट्ट की और फिल्मों की अपेक्षा सड़क २ का म्यूजिक कुछ ख़ास नहीं है। पर पूरी फिल्म की तुलना की जाये तो सिर्फ म्यूजिक ही दर्शकों को पसंद आ सकती है सड़क 2 की म्यूजिक सड़क से म्यूजिक से काफी कमजोर दिखाई देती है।

सड़क 2 महेश भट्ट की दूसरी पारी की अच्छी शुरुआत करती नहीं दिखाई देती महेश भट्ट निर्देशित सड़क 2 दर्शकों को उनके निर्देशन से निराश करती है।

Share this!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *