Bihar Assembly Election 2020 : NDA से अलग नहीं हो रहे हैं चिराग पासवान, इस बात पर लगी मुहर

Bihar Assembly Election 2020: बिहार [Bihar] विधानसभा चुनाव की तारीखें घोषित होने के बाद से ही एनडीए [NDA] में सीटों के बटवारे को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई थी। लेकिन 28 सितंबर को लोक जनशक्ति पार्टी [Lok Janshankti Party] के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान [Chirag Paswan] की भारतीय जनता पार्टी [Bhartiya Janta Party] के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा [JP Nadda] से मुलाकात के बाद दोनों दलों में नाराजगी के बादल छटते हुए दिख रहे हैं।

पिछले विधानसभा चुनाव में जेडीयू [JDU] एनडीए [NDA] के साथ नहीं थी। इस बार लोजपा [LJP] और जेडीयू [JDU] दोनों एनडीए के साथ चुनावी दंगल में उतरने को तैयार हैं। इसी कारण सीटों को लेकर सभी घटक दलों में सीटों को लेकर घमासान हैं। सभी घटक दल अपनी -अपनी पार्टी के लिए अपने अनुकूल सीटें चाहते हैं। पिछले कई दिनों से लोजपा और जेडीयू एक दूसरे के खिलाफ बयानबाज़ी कर रहे हैं इससे एनडीए में दरार की खबरों का भी बाजार काफी गर्म रहा लेकिन शीर्ष नेतृत्व की मध्यस्थता के बाद अब सहयोगी दलों में कड़वाहट कम होती हुई दिख रही है।

सोमवार 28 सितम्बर को दिल्ली [Delhi] में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने लोजपा के अध्यक्ष चिराग पासवान से सीटों के बटवारे को लेकर बैठक की। इस बैठक के बाद लोजपा के एनडीए से अलग होने की अटकलों पर विराम लग गया है। पिछले विधानसभा चुनाव में एनडीए के गठबंधन से लोजपा 42 सीटों पर चुनावी मैदान में उतरी थी क्यूकि इस बार जेडीयू भी एनडीए का हिस्सा है तो 27 सीटों पर लोजपा की बात बनती हुई लग रही है। भाजपा के सीट वितरण से लोजपा अध्यक्ष संतुष्ट दिखाई दे रहे हैं ।

यही नहीं वो अपने संसदीय क्षेत्र जमुई [Jamui] सीट को भी विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा को देने को तैयार हो गए हैं। चिराग पासवान जमुई से सांसद हैं। भाजपा जमुई विधानसभा क्षेत्र से अंतर्राष्ट्रीय निशानेबाज श्रेयसी सिंह को चुनाव में उतरना चाहती है। इस पर भी चिराग ने अपनी सहमति दे दी है।

सूत्रों के अनुसार जमुई के बदले भाजपा ने चिराग को चकाई [Chakai] की सीट दी है। लोजपा को एनडीए के घटक दल के रूप में 27 विधानसभा की सीटें 2 विधानपरिषद [State Legislative Council] की सीटें और एक राज्यसभा [Rajya Sabha] की सीट देने का वादा किया है। चिराग अपने संसदीय क्षेत्र जमुई को छोड़ना नहीं चाहते थे लेकिन अंतर्राष्ट्रीय शूटर[ International Shooter] श्रेयसी सिंह [Shreyasi Singh] के नाम पर वे अपनी सीट भाजपा को देने के लिए तैयार हो गए। जमुई में जातिगत वोटबैंक के चलते श्रेयसी सिंह को चुनावी मैदान में उतारने की तैयारी है। जमुई क्षेत्र में राजपूत वोटबैंक पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं। फिलहाल श्रेयसी सिंह ने औपचारिक रूप से कोई वक्तव्य नहीं दिया है कि वो कब और कहाँ से चुनाव लड़ेंगी।

लोजपा की एनडीए से नाराजगी सीटों के बटवारे और जेडीयू को लेकर थी लेकिन अब लोजपा ने भाजपा से समझौता कर लिया है। संसदीय दल की बैठक के बाद चिराग पासवान एनडीए में बने रहने की भी घोषणा कर सकते हैं। सूत्रों के अनुसार 29 सितम्बर मंगलवार को भी दोनों घटकों के बीच सीटों के वितरण को लेकर बैठक हो सकती है।

Share this!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *