84 साल की उम्र में प्रणव मुखर्जी ने ली अंतिम सांस, PM मोदी ने ट्वीट कर कहा-निधन पर पूरा देश दुखी है

Pranab Mukherjee death: भारत रत्न और पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का निधन 84 साल की उम्र में हो गया है। प्रणव मुखर्जी काफी समय से बीमार थे और अस्पताल में भर्ती थे। हाल ही में प्रणव दा कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। इस बात की जानकारी खुद प्रणव मुखर्जी ने दी है। अस्पताल में प्रणव दी ब्रेन की सर्जरी भी हुई थी। प्रणव मुखर्जी के निधन पर पीएम मोदी से लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शोक व्यक्त किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रणब मुखर्जी (pranab mukherjee) के निधन पर दुख जताया है। पीएम मोदी ने लिखा है कि प्रणब मुखर्जी के निधन पर पूरा देश दुखी है, वह एक स्टेट्समैन थे। जिन्होंने राजनीतिक क्षेत्र और सामाजिक क्षेत्र के हर तबके की सेवा की है। प्रणब मुखर्जी ने अपने राजनीतिक करियर के दौरान आर्थिक और सामरिक क्षेत्र में योगदान दिया। एक शानदार सांसद थे, जो हमेशा पूरी तैयारी के साथ जवाब देते थे।

इसके साथ ही पीएम मोदी ने दो फोटो भी प्रणव मुखर्जी के साथ की शेयर की हैं। एक फोटो में वह पूर्व राष्ट्रपति के पैर छूते नजर आ रहे हैं।

प्रणब मुखर्जी के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी है। रामनाथ कोविंद ने ट्वीट में लिखा कि प्रणब मुखर्जी के निधन की खबर सुनकर दुख हुआ है। पूर्व राष्ट्रपति का जाना एक युग का अंत है। प्रणब मुखर्जी ने देश की सेवा की, आज उनके जाने पर पूरा देश दुखी हैय़

असाधारण विवेक के धनी, भारत रत्न श्री मुखर्जी के व्यक्तित्व में परंपरा और आधुनिकता का अनूठा संगम था। 5 दशक के अपने शानदार सार्वजनिक जीवन में, अनेक उच्च पदों पर आसीन रहते हुए भी वे सदैव जमीन से जुड़े रहे। अपने सौम्य और मिलनसार स्वभाव के कारण राजनीतिक क्षेत्र में वे सर्वप्रिय थे।

प्रणव मुखर्जी बनें थे राष्ट्रपति

प्रणब मुखर्जी जुलाई 2012 में भारत के 13वें राष्ट्रपति बने थे। प्रणव 25 जुलाई 2017 तक इस पद पर विराजमान रहे थे। इसके बाद प्रणब मुखर्जी को 26 जनवरी 2019 में भारत रत्न (Bharat Ratna) से सम्मानित किया गया था। प्रणब मुखर्जी ने कलकत्ता विश्वविद्यालय (Calcutta University) से इतिहास और राजनीति विज्ञान में स्नातकोत्तर के साथ साथ कानून की डिग्री हासिल की थी।इतना ही नहीं प्रणव एक वकील भी थे और अध्यापक भी रहे।

 

Share this!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *